SEARCH HERE

medical Terms And Meanings

-: कुछ common terms एवं उनके अर्थ :-

Heamaturia
मूत्र के साथ रक्त का आना
Glycosuria
मूत्र के साथ ग्लूकोज का आना
Albuminuria
मूत्र में प्रोटीन (एल्यूमिन) का उपस्थित होना
Dyspnoea
श्वास लेने में तकलीक होना।
Micturitio
मूत्र बाहर निकालने की प्रक्रिया
Defaecation
मल त्याग करना।
Droplet infection
किसी श्वसनीय संक्रमण से ग्रसित व्यक्ति के खाँसने. छींकने या बोलने पर मुँह या नाक ls fudyus okys jksगाणुओं युक्त लार अथवा श्लेष्मा के सुक्ष्म कणों को असंक्रमित व्यक्ति द्वरा inhale कर लेना।
Colonic
irrigation
कोलोन का प्रक्षालन

Elimination

त्वचा, फुफ्फुस (Lungs), मूत्राशय (Urinary bladder) एवं मलाशय (Rectum) द्वारा शरीर से
उत्सर्जी पदार्थों को बाहर निकालना।
Enuresis
मूत्र का अनैच्छिक त्याग
Polyurea
24 घण्टे में 2000 ml से अधिक मूत्र त्याग होना
Antiseptic
एक कारक जो सूक्ष्म जीवों की वृद्धि एवं विकास को रोकता है।
Bacteriocide
एक कारक जिसमें सुक्ष्म जीवों का नाश करने की क्षमता हो
Oligurea


24 घण्टे में 100 - 400 ml के बीच मूत्र त्याग होना।
Anurea

24 घण्टे में 100 ml से कम मूत्र त्याग होना l
Bed sore या pressure sore
लम्बे समय तक एक ही स्थिति में बिस्तर पर लेटे रहने अथवा कर्सी पर बैठे रहने से रक्त परिवहन में कमी जाना तथा ऊतकों का क्षय होना

Root Abscess
दाँतो की मूल में मवाद पडना
Stomatitis
मु गुहा की श्लेष्मा झिल्ली का inflammation
Gingivitis
मसूडों का inflammation
Salpingitis
फैलोपियन ट्यूब का inflammation
Sitz bath
मरीज को बैठी हुई स्थिति में स्नान कराना जिसमें उसका इलियक क्रेस्ट से नीचे वाला भाग घोल में डूबा रहता है।
Otitis media
मध्य कर्ण का inflammation
Symptom

 बीमारी के लक्षण जिन्हे मरीज स्वयं बताता है जैस पेटदर्द
Blood pressure

रक्त द्वारा रक्त की भित्तियों पर लगाये जाने वाला दाब
Pulse pressure

सिस्टोलिक एवं डायस्टोलिक दाब का अन्तर
Systolic pressure

निलयों के संकुचन के दौरान रक्त के महाधमनी में जाने पर उत्पन्न दाब
Diastolic
pressure

हृदय के विश्राम अवस्था में होने पर उत्पन्न होने वाला दाब। यह अवस्था बोये निलय के संकुचन
प्रारम्भ होने से ठीक पहले होती है।
Cyanosis

ऑक्सीजन की कमी के कारण शरीर का नीला पड जाना।
Chyene stroke
इसमें श्वसन एक श्रृंखला में होता है। प्रत्येक श्वसन और अधिक गहरा होता जाता है जब तक respiration कि यह maximum स्तर तक पहुँच जाये। इसके बाद एक विश्रामावस्था आती है फिर वही प्रक्रिया पुनः दोहराई जाती है।
. Sign

बीमारी के चिन्ह जिन्हें देखा या महसूस किया जा सकता है जैसे बुखार
Hypertension
सिस्टोलिक BP का 140 mm of Hg या इससे अधिक होना एवं डायस्टोलिक BP का 90mm of Hg या इससे अधिक होना।
Glossitis
जीभ का inflammation
Sigh

बहुत गहरी साँस अन्दर लेना उसके बाद काफी लम्बी साँस छोड़ना
Serum

Plasma से clotting factors के हटाने के बाद बचा fluid
Rale या rahi

Airway में म्यूकस की उपस्थिति के कारण श्वसन के दौरान उत्पन्न bubbling sound
Stertorous
respiration
शोरयुक्त श्वसन
Plasma

Whole blood से रक्त कोशिकाओं को हटाने बाद बचा fluid
Pulse rate
एक मिनट में होने वाले हृदय धड़कन की संख्या

Indirect contact
संक्रमित व्यक्ति द्वारा उपयोग में ली गई वस्तुओं, उसके स्त्रावों एवं उत्सर्जी पदार्थों द्वारा सूक्ष्मजीवों का एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचना
. Liver aspiration
किसी abscess को निकालने के लिए यकृत द्रव्य (Liver substance) में नीडल प्रवेश करना।
Thoracentesis
नीडल द्वारा वक्षभित्ति में से होकर प्यूरल स्पेस का बेधना तथा द्रव निकालना
Bone marrow biopsy

एक सूई द्वारा स्टरनम, इलियक क्रेस्ट आदि से अस्थिमज्जा का नमूना लेना
. Abdominal
parecentesis
52पेरीटोनियल केविटी से द्रव बाहर निकालना
Anorexia
भूख नहीं लगना
. Lumbar
puncture
L3 एवं कशेरूकों के मध्य स्थान में Needle प्रवेश कराकर Cerebro Spinal Fluid बाहर निकालना
Pediculosis
बालों में जूं पडना
Direct contact
चुम्बन, यौन सम्पर्क, Droplet infection आदि के द्वारा सूक्ष्मजीवों का एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संचारण होना
Sensitivity
किसी वस्तु के प्रति संवेदनशील होना
Rodent
 तीखे दाँतयुक्त जन्तु जैसे चूहा।
Prophylactic
किसी रोग के बचाव के लिए किये जाने वाले उपाय
Suppository

मलाशय अथवा योनि में प्रवेश किये जाने वाला कोन के आकार का ठोस जो शरीर के तापमान पर पिघल जाता है।
Regurgitation

उल्टा प्रवाह जैसे आमाशय में उपस्थित खाद्य पदार्थों का मुँह में वापस आना।
Fever
शरीर का तापमान 99°F से अधिक हो जाना
polydypsia
 बार-बार प्यास लगना
Polyphagia
अधिक भूख लगना
Jaundice

रक्त में बिलिरुबिन की मात्रा बढ़ जाने के कारण नाखूनों, कंजक्टाइवा तथा त्वचा का पीला पड़  जाना l
Dysphagia
भोजन निगलने में परेशानी
Retension of
urine
मूत्र का मूत्राशय से बाहर नहीं निकल पाना
Melana

रक्त मिश्रित अत्यधिक गहरे एवं काले रंग का मल (stool)
Incontinence
मूत्राशय या मलाशय के sphincters पर नियंत्रण होना।
Apnoea
श्वसन का बंद हो जाना
Cross infection
अलग-अलग संक्रमण से ग्रसित व्यक्तियों द्वारा एक दूसरे को संक्रमण का संचारण
Tachyponea

श्वसन दर 20 प्रति मिनट से अधिक होना
Bacteriostat
 एक कारक जो जीवाणुओं की वृद्धि रोकता है।

Pyurea
मूत्र के साथ मवाद आना
Bradypnoea
श्वसन दर 10 प्रति मिनट से कम होना
Hyperpyrexia
शरीर का तापमान 105° F से अधिक होना।
Disinfection
समस्त रोगकारक जीवों को नष्ट करना
Stridor
Noisy breathing
Crisis of Fever
अत्यधिक उच्च तापमान का कुछ घण्टों या कुछ दिनों में एकाएक सामान्य हो जाना।
Bradycardia
हृदय धडकन का 60 प्रति मिनट से कम हो जाना
Intermittent
यह स्थिति जिसमें एक निश्चित समयान्तराल पर हृदय धड़कन अनुपस्थित हो जाती है।
Pathogen

ऐसे सूक्ष्म जीव जो रोग फैलाने की क्षमता रखते हैं
Cyanosis

ऑक्सीजन की कमी के कारण शरीर का नीला पड़ जाना
Hyperpnoea
श्वसन की गहराई में वृद्धि
Orthopnoea
मरीज केवल सीधे बैठकर या खडे होकर ही श्वसन कर पाता है
Hypoxia
ऊतकों में ऑक्सीजन की कमी
Hypoxemia
रक्त में ऑक्सीजन की कमी
Tachycardia
H eart rate का 100 प्रति मिनट से अधिक हो जाना।
Carrier
वह व्यक्ति जिसमें किसी बीमारी के रोगाणु तो उपस्थित होते हैं परन्तु उसमें बीमारी के लक्षण
नहीं पाये जाते।
Fomites
ऐसे पदार्थ जिनमें रोग को संचारित करने की क्षमता होती है जैसे संक्रमित बर्तन
Portal of entry
मार्ग जिनके द्वारा सूक्ष्मजीव शरीर में प्रवेश करते हैं। जैसे श्वसन मार्ग, मूत्र मार्ग।
Portal of exit
 ऐसे मार्ग जिनके द्वारा सूक्ष्मजीव शरीर से बाहर निकलते हैं।
Asepsis
संक्रमण से मुक्ति
Infection
 किसी रोग उत्पन करने वाले कारक का शरीर में प्रवेश करना






कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

google.com, pub-6066490989146594, DIRECT, f08c47fec0942fa0