इन 6 वजहों से भी हो सकते है कोरोनावायरस के शिकार,सबसे मुख्य मोबाइल का इस्तेमाल

इन 6 वजहों से भी हो सकते है कोरोनावायरस के शिकार


कोरोनावायरस के कारण हुए लाॅकडाउन में भले ही हर कोई घर पर रहने के निर्देश मान रहा है लेकिन अभी संक्रमण खतरनाक दर से फैल ही रहा है यह साबित होता है कि वास्तव में कोरोनावायरस कितना संक्रामक है यहां तक कि अगर बाहर मास्क पहन रहे हैं लगातार 20 सेकेंड के लिए अपने हाथों को धो रहे हैं और अपनी आसपास को साफ/सेनिटाइज कर रहे हैं तो भी इसकी चपेट में आ सकते हैं इसलिए भी क्योंकि कुछ ऐसी चीजों के संपर्क में आने जाने या अनजाने में आ सकते हैं जिसके बारे में आपको अभी अंदाजा नहीं होगा कि अभी जोखिम में आपको डाल सकता है


1  मोबाइल फोन 

जी हां आजकल के जरूरत की चीजों में मोबाइल फोन सबसे अहम बन चुका है मोबाइल के बिना हमारा जिंदगी अधूरा हो गया है और यह मोबाइल फोन के द्वारा ही आप कोरोना के शिकार हो सकते हैं। आप कहीं बाहर जाते हैं और किसी सामान रेलिंग दरवाजा गेट हैंडल को छूते हैं अगर उसमें कोरोना  संक्रमित अगर है उसे छूने के बाद आप कहीं जाते हैं इसके बाद आप अपने मोबाइल फोन से बातें करना है व्हाट्सएप चलाना या कुछ भी करना है दैनिक जीवन के कुछ भी जानकारी देखना यह सब करते हैं इसके बाद आपसे पुनः पॉकेट में रख देते हैं और उसके बाद जब आप कुछ काम करने जाते हैं तो आप हैंडवाश कर लेते किंतु जब आप घर पर रहते हैं कुछ नाश्ता करते रहे तब जरूरत के फोन अगर आ जाते हैं तब उस समय आप अगर हैंड वॉश करना भूल जाते हैं मोबाइल छूने के बाद तो फिर वह आपके बॉडी में भी प्रवेश कर जाएगा उसके वायरस तो यह  एक खतरनाक कारण साबित हो सकता है इसका ध्यान रखें।

2-  पब्लिक टॉयलेट

 यदि बहुत जरूरी चीज के लिए अगर आप बाहर जा रहे हैं तो आप कभी भी पब्लिक टॉयलेट का उपयोग नहीं करना चाहिए जब तक कि बहुत ज्यादा इमरजेंसी ना हो ना कि केवल इस बात के प्रमाण हैं कि कोरोनावायरस आसानी से और अल्फेकल ट्रांसमिशन के माध्यम से फैल सकता है बल्कि कोरोना वायरस के शुरुआती लक्षण चैनल प्रतीत होते हैं और रूट में मल के रोगाणु एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के मुंह में जाते हैं इसके कारणों में पर्याप्त स्वच्छता की कमी होती है।

3-  एलीवेटर का इस्तेमाल

 राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान के शोध के अनुसार कोरोनावायरस न केवल धातु के छात्रों पर 3 दिन तक रहता है ही नहीं बल्कि 3 दिन तक एरोसॉल के रूप में भी रह सकता है यह सोलसोर्स कन्या ठोस और तरल कणों के मिश्रित को कहते हैं इसलिए एक सीमित जगह में जैसे कि एक्लीव में किसी और ने पहले शिकायत खासा होगा तो या दूसरे व्यक्ति को भी प्रभावित कर सकता है भले ही लिफ्ट खाली क्यों ना हो

4-  बढ़ी हुई दाढ़ी में

 क्वॉरेंटाइन शामिल है लेकिन अगर इस दौरान अपनी दाढ़ी बढ़ा ली है तो अपने स्वास्थ्य के लिए अनावश्यक जोखिम शामिल कर लिया है गाड़ी है तो मांस को सही तरीके से सील नहीं करेगा और जिससे बचने की कोशिश कर रहे हैं दाढ़ी उसके संपर्क में ला सकती है इसलिए बढ़ी हुई दाढ़ी खतरा साबित हो सकती है।

5-  लंबे नाखून का होना 

भले लंबे नाखून रखने की आदत हो लेकिन इस माहौल में अगर आप लंबे रखो रखे हैं तो यह आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है इसलिए अगर आप लंबे नाखून रखे हैं तो उसे तुरंत काट कर छोटा कर दिए क्योंकि नाखूनों के बीच बहुत सारे कीटाणु रहते हैं और यह आपको गंभीर रूप से खतरा पहुंचा सकते हैं और कोरोनावायरस के विस्तार में बहुत ही सफल कारगर हो जाते हैं।

6-  अस्पताल जा रहे हैं

 अगर आप इस महामारी की स्थिति में अस्पतालों में भीड़ करने के लिए बचना चाहते हैं तो सोशल डिस्टेंडिंग को सुनिश्चित करने के लिए अस्पताल जहां तक हो ना जाएं या फिर अस्पताल जाने से बचें अगर कंसल्टेशन और ट्रीटमेंट का इंतजार करने लायक हो तो आप सोशल डिस्टेंसिंग के लिए वहां जाने से बचें और अपना जो ट्रीटमेंट है वह ऑनलाइन या कॉल के माध्यम से आप डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं या फिर यह हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स के लिहाज से भी यह भी जरूरी है कि डाॅ. व स्टाॅफ कोरोनावायरस के मरीजों की देखभाल कर रहे हैं तो उनके संपर्क में आते हैं और आप भी स्वस्थ हैं और आप भी उनके संपर्क में आएंगे तो आपको कोरोना से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है।
बलरामपुर स्वास्थ्य व पुलिस टीम -झारखण्ड बॉर्डर  

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

google.com, pub-6066490989146594, DIRECT, f08c47fec0942fa0