सबसे बुरा अभी बाकी है:: डब्ल्यूएचओ

सबसे बुरा अभी बाकी है:: डब्ल्यूएचओ


सभी देशों को ऐतिहासिक उपाय जारी रखने का कहा डब्ल्यूएचओ ने 

@  कई गुना बढ़ सकता है मामलों और मौतों का आंकड़ा



 प्राप्त जानकारी के अनुसार विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ ने कोरोनावायरस संकट को लेकर एक और चेतावनी दी है !

संस्था के प्रमुखटेड्रॉस ऐडहॉनम गीब्रियेसस ने. कहा कि दुनिया अभी इस वायरस की महामारी कोविड-19 का और बुरा हाल देखने वाला है या बुरा देखने वाली है जिनेवा में मीडिया से बातचीत में उनका कहना था सबसे बुरा हाल अभी बाकी है डब्ल्यूएचओ ने मंगलवार को कहा कि अगर हड़बड़ी में और सही समय से पहले लॉक डाउन हटाया गया तो एक कोरोना संक्रमण को बढ़ावा दे सकता है| 
                                   डब्ल्यूएचओ की चेतावनी ऐसे वक्त में आई है जब कई देश अपने यहां से या तो लॉक डॉउन को हटाने पर सोच रहे हैं या फिर इसमें आंशिक रूप से पाबन्दी   को हटा चुके हैं डब्ल्यूएचओ के क्षेत्रीय निदेशक पश्चिमी प्रशांत ताकेशी कसाई ने कहा कम से कम जब तक कोई वैक्सीन  नहीं बन जाती या कोई इलाज नहीं ढूंढ लिया जाता तब तक लॉकडाउन  हमारे लिए यू नॉर्मल हो जाना चाहिए क्योंकि इससे फायदों के प्रमाण मिले हैं| 

                                      जापान और सिंगापुर जैसे देशों में कोविड-19 संक्रमण की दूसरी दौर देखा गया है माना जा रहा है कि कोरोनावायरस से अब अफ्रीका महाद्वीप के हालात बेकाबू हो सकते हैं और इसके चलते मामलों और मौतों का आंकड़ा कई गुना बढ़ सकता है उधर यूरोप के भी कई देशों और अमेरिका प्रतिबंधों में ढील की तैयारी कर रहे हैं लेकिन डब्ल्यूएचओ ने दुनिया के सभी देशों से अपील की है कि वे अभी एहतियात
 बरतना जारी रखें लॉग डाउन को जारी रखें विश्व स्वास्थ संगठन ने चेतावनी दी है कि कोविड-19 संक्रमण का प्रसार रोकने के लिए लगाई कई पाबंदियां व लाॅकडाउन को धीरे-धीरे ही हटाया जाना चाहिए



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें